PHOTOS में कैलिफोर्निया की ताहो झील: सफाई के लिए 25 फुट की गहराई में उतरे लोग, सालभर में कुल 11 सौ किलो कचरा निकाला

0
6


  • Hindi News
  • International
  • People Descended To A Depth Of 25 Feet For Cleaning, Took Out A Total Of 11 Hundred Kg Of Garbage In A Year

कैलिफोर्निया4 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

दुनिया की सबसे साफ झीलों में शुमार कैलिफोर्निया की ताहो झील की रौनक एक साल तक चले सफाई अभियान के बाद फिर लौट आई है। झील से 25 फुट की गहराई तक लोगों ने सफाई की । इसमें पुराने कैमरे और लैंपपोस्ट थे।

सफाई के दौरान झील से 11 सौ किलो कचरा निकाला जा चुका है। इस कचरे में कैमरे और लैंप पोस्ट भी शामिल है। कचरे को बेचकर मिली रकम को झील की सफाई में लगाया जाएगा।

एनजीओ बनाकर हुई शुरुआत
ताहो झील के आसपास रहने वाले लोगों ने 2018 में एक संगठन बनाया। क्योंकि झील का पानी गंदा हो रहा था। लोगों ने इस झील को साफ करने की ठानी और ‘क्लीन अप द लेक’ नामक एनजीओ का गठन कर क्राउड फंडिंग के जरिए लगभग 74 लाख रुपए जुटाए।

संगठन ने स्कूबा डाइवर्स को सफाई का काम सौंपा। लगभग एक साल तक चले सफाई अभियान के बाद आज ताहो झील का पानी बिलकुल पहले की तरह साफ हो गया है। नीचे दिए फोटोज में देखिए झील की सफाई और खूबसूरती…

साल भर चलने वाले लेक ताहो सफाई के अंत में गोताखोर झील में डाइव करने की तैयारी करते स्कूबा डाइवर्स। इन्होंने पिछले साल ताहो झील के पूरे 72-मील (115-किलोमीटर) तट रेखा की सफाई की थी।

साल भर चलने वाले लेक ताहो सफाई के अंत में गोताखोर झील में डाइव करने की तैयारी करते स्कूबा डाइवर्स। इन्होंने पिछले साल ताहो झील के पूरे 72-मील (115-किलोमीटर) तट रेखा की सफाई की थी।

ताहो झील की सफाई के दौरान खींची गई तस्वीर। एक गोताखोर झील में मिले कचरे को दिखाता हुआ।

ताहो झील की सफाई के दौरान खींची गई तस्वीर। एक गोताखोर झील में मिले कचरे को दिखाता हुआ।

झील से कचरे में कैमरा और लैंप पोस्ट के अलावा पुराने कैसेट्स और कागजात भी मिले। वॉलंटियर्स की टीम ने कचरे का पता लगाने के लिए सर्वे शुरू किया।

झील से कचरे में कैमरा और लैंप पोस्ट के अलावा पुराने कैसेट्स और कागजात भी मिले। वॉलंटियर्स की टीम ने कचरे का पता लगाने के लिए सर्वे शुरू किया।

वॉलंटियर्स भी वे झील में उतरते तो उन्हें एक डाइव में 50 पाउंड से अधिक कचरा मिलता। बाद में उन्होंने झील को साफ करने के लिए 72 मील प्रोजेक्ट की शुरुआत की।

वॉलंटियर्स भी वे झील में उतरते तो उन्हें एक डाइव में 50 पाउंड से अधिक कचरा मिलता। बाद में उन्होंने झील को साफ करने के लिए 72 मील प्रोजेक्ट की शुरुआत की।

झील की तलहटी में मौजूद मलबा। क्लीन अप द लेक संगठन के प्रयासों से झील में मौजूद भारी कचरे को धीरे- धीरे साफ किया गया।

झील की तलहटी में मौजूद मलबा। क्लीन अप द लेक संगठन के प्रयासों से झील में मौजूद भारी कचरे को धीरे- धीरे साफ किया गया।

क्लीन अप द लेक के मुताबिक, झील से 24,797 चीजें मिलीं। कचरे में 4,527 एल्यूमीनियम के डिब्बे, 295 जोड़ी धूप का चश्मा, 171 टायर और 127 नाव के लंगर भी शामिल थे।

क्लीन अप द लेक के मुताबिक, झील से 24,797 चीजें मिलीं। कचरे में 4,527 एल्यूमीनियम के डिब्बे, 295 जोड़ी धूप का चश्मा, 171 टायर और 127 नाव के लंगर भी शामिल थे।

खबरें और भी हैं…



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here