CBI जांच के लिए हाईकोर्ट जाएगा सोनाली का परिवार: गोवा पुलिस की जांच से संतुष्ट नहीं, सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को भी लिखा लेटर

0
10


हिसार11 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सोनाली फोगाट हत्याकांड की CBI जांच कराने के लिए मृतका का परिवार अब पंजाब हरियाणा एवं हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाएगा। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिलने का समय भी मांगा गया है।सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस उदय उमेश ललित को भी पत्र लिखा गया है। यह जानकारी सोनाली के भांजे विकास ने दी और कहा कि गोवा पुलिस की जांच से परिवार वाले संतुष्ट नहीं हैं, इसलिए अब हाईकोर्ट जाएंगे, ताकि सोनाली को इंसाफ मिले।

हरियाणा सरकार ने ऑफिशियल मांग की थी

वहीं सोनाली के भाई रिंकू ढाका ने कहा कि गोवा सरकार ने सोनाली फोगाट हत्याकांड की CBI जांच कराने के लिए हरियाणा सरकार की सिफारिश भी नहीं मानी। हरियाणा के गृह विभाग की ओर से गोवा के गृह सचिव को इस बारे में ऑफिशियल लेटर भेजा गया था। हरियाणा सरकार की ओर से लिखे गए लेटर में कहा गया कि सोनाली फोगाट BJP लीडर थीं। उन्होंने 2019 में पार्टी टिकट पर आदमपुर से चुनाव लड़ा था, इसलिए राज्य सरकार की ओर से इस मामले की CBI जांच कराने की सिफारिश की जाती है, लेकिन इस मांग का दर किनार किया गया।

सोनाली की बेटी ने मांगा था मां के लिए इंसाफ

रिंकू ने बताया कि सोनाली की इकलौती बेटी यशोधरा ने भी मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मिलकर मां को इंसाफ दिलाने की मांग की थी। मुख्यमंत्री के चंडीगढ़ स्थित आवास पर यशोधरा परिवार के सदस्यों के साथ उनसे मिलने गई थी। इस दौरान यशोधरा ने केस की जांच CBI से कराने की मांग का लिखित पत्र उन्हें सौंपा था। इसके बाद सरकार ने गोवा सरकार से ऑफिशियल लेटर भेजकर CBI जांच कराने की मांग की, लेकिन गोवा सरकार ने सहयोग नहीं किया, क्योंकि गोवा सरकार इस मामले को दबाना चाहती है।

4 दिन से टाइम पास कर रही गोवा पुलिस

रिंकू ने कहा कि हत्याकांड की जांच के लिए गोवा पुलिस की 2 सदस्यीय टीम 4 दिन से हरियाणा में है। पहले सोनाली का ढूंढर फार्म हाउस खंगाला। फिर 2 दिन संत नगर वाला मकान तलाशा। 3 डायरी जब्त की और एक लॉकर सील किया। CCTV फुटेज चैक की, लेकिन कब्जे में नहीं ली। रविवार को रोहतक में सुधीर सांगवान के घर जाकर पूछताछ की। बैंक खातों की डिटेल ली, तहसील से प्रॉपर्टी का रिकॉर्ड भी लिया​​​​​​। रिंकू ने कहा कि कई बातें सामने आई हैं, लेकिन गोवा पुलिस की जांच से संतुष्टि नहीं है। टीम टाइम पास कर रही है। जांच करने के नाम खानापूर्ति की जा रही है। गोवा पुलिस के यहां आने का मकसद बस समय बितना है, ताकि जितना ज्यादा समय निकले और मामला पुराना होता चला जाए। इसलिए अब हम हाईकोर्ट में रिट दायर करेंगे।

सुधीर ने मोबाइल और कमरे से कई चीजें हटाईं

सोनाली फोगाट के भाई रिंकू ढाका ने दावा किया है कि सुधीर सांगवान और उसका साथी सुखविंदर सिंह केस के कई अहम सबूत मिटा चुके हैं। दोनों ने सोनाली के मोबाइल फोन से छेड़छाड़ की और उसके कमरे से भी कई चीजें गायब कर दीं। दोनों 23 अगस्त की सुबह सोनाली की मौत हो जाने के बाद 25 अगस्त की शाम तक गोवा पुलिस को गुमराह करते रहे। गोवा पुलिस अभी तक सुधीर के फोन की कॉल डिटेल भी खंगाल नहीं पाई है।

रिंकू ने कहा कि गोवा पुलिस ने सुधीर और सुखविंदर के खिलाफ 3 दिन बाद हत्या का केस दर्ज किया। अगर गोवा पुलिस 23 अगस्त की सुबह ही सुधीर और सुखविंदर पर FIR दर्ज कर दोनों को गिरफ्तार कर लेती तो कई अहम सबूत उसके हाथ लग सकते थे। 23 अगस्त की शाम को जब वह अपने जीजा अमन पूनिया के साथ गोवा पहुंचे तो सोनाली का मोबाइल फोन सुधीर के पास था। 12 घंटे तक सुधीर फोन इस्तेमाल करता रहा।

जब उन्होंने इस बात पर आपत्ति जताई तो गोवा पुलिस के अफसर जवाब नहीं दे पाए। इन 12 घंटों में सुधीर ने सोनाली के मोबाइल से क्या छेड़छाड़ की? इसका पता लगना चाहिए। सोनाली की मौत के बाद गोवा पुलिस ने रिजॉर्ट का वह कमरा भी सील नहीं किया, जहां सोनाली रुकी थी। तीन दिन सुधीर यह कमरा इस्तेमाल करता रहा। इन 3 दिनों में उसने कमरे से क्या-क्या हटाया या गायब किया? इसकी इन्वेस्टिगेशन होनी चाहिए।

सोनाली को सुधीर तांत्रिक के पास भी ले गया था

सोनाली के मुंहबोले भाई ऋषभ बेनीवाल ने बताया है कि सोनाली का विश्वास जीतने के लिए सुधीर उसे एक तांत्रिक के पास भी ले गया था। तांत्रिक को सुधीर ने सोनाली के बारे में पहले ही काफी कुछ बता दिया था। इसलिए जब तांत्रिक ने वही बातें सोनाली को बताईं तो उसे लगा कि तांत्रिक बेहद पहुंचा हुआ है। सुधीर ने उसी तांत्रिक से सोनाली को कहलवाया कि वह अपने आसपास सिर्फ ऐसे इंसान को ही रखे, जो उनका विश्वासपात्र हो। सोनाली तब से सुधीर पर और ज्यादा डिपेंड हो गई।

सुधीर का विरोध नहीं कर पाती थी सोनाली

ऋषभ ने कहा कि सोनाली की कोई कमजोरी सुधीर के हाथ लग चुकी थी, जिसके कारण वह उसका विरोध नहीं कर पाती थी। सोनाली को उसके परिवार से सुधीर पहले ही दूर कर चुका था। जब उसे लगा कि मैं आवाज उठा सकता हूं तो उसने सोनाली को मुझसे भी बात न करने के लिए कहा। हालांकि जब भी सुधीर आसपास नहीं होता तो सोनाली मुझे फोन करके बात करती थी और अकसर वह रो पड़ती थी।’

केस जल्द से जल्द CBI को सौंपा जाए

रिंकू ने कहा कि सुधीर और सुखविंदर तीन दिन तक गोवा पुलिस को गुमराह करते रहे। मेरी बहन की मौत का सच सामने लाने के लिए यह केस जल्द से जल्द CBI को सौंपा जाना चाहिए। हमारा परिवार हरियाणा के CM मनोहर लाल से मिलकर इसकी लिखित मांग कर चुका है। अबा हाईकोर्ट जाएंगे। CM से दोबारा मुलाकात का समय मांगा है। सोनाली का इंसाफ परिवार दिलाकर रहेगा।

सोनाली के परिवार द्वारा सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को लिखा गया लेटर।

सोनाली के परिवार द्वारा सुप्रीम कोर्ट के चीफ जस्टिस को लिखा गया लेटर।

सोनाली ने फिल्म डायरेक्टर को बताया था राज:भाजपा नेता ने कहा था- सुधीर के पास मेरे कुछ प्रूफ, उनसे ब्लैकमेल करता है

सोनाली के PA सुधीर के घरवालों से पूछताछ:रोहतक पहुंची गोवा पुलिस टीम; करीब एक घंटा परिजनों से पूछे सवाल; प्रॉपर्टी-बैंक डिटेल खंगाली

सोनाली फोगाट के 2 ट्रस्ट सामने आए:नाम प्रेरणा और जाट उदय संस्थान; अप्रैल-2021 में रजिस्टर्ड कराए; सुधीर के साथ एक और पदाधिकारी

सोनाली फोगाट के PA सुधीर का कबूलनामा:बोला- गोवा में कोई शूटिंग नहीं थी, मैंने ही उसे मारा, साजिश रची थी

खबरें और भी हैं…



Source link