25 साल बाद अमेरिकी स्पीकर का ताइवान दौरा: पेलोसी बोलीं- अमेरिका ताइवान की डेमोक्रेसी के समर्थन में, चीन ने कहा- आग से खेलना बंद करे US

0
12
Advertisement


  • Hindi News
  • International
  • Pelosi Said America In Support Of Taiwan’s Democracy, China Said US Should Stop Playing With Fire

ताईपेई9 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अमेरिकी संसद की स्पीकर नैंसी पेलोसी चीनी विरोध के बावजूद ताइवान की राजधानी ताईपेई पहुंचीं हैं। यह किसी अमेरिकी स्पीकर का 25 साल बाद ताइवान का दौरा है। इससे पहले 1997 में उस समय के स्पीकर न्यूट गिंगरिक यहां पहुंचे थे।

अपने दौरे पर पेलोसी ने कहा- अमेरिका ताइवान की डेमोक्रेसी का समर्थन जारी रखेगा। ताइवान के 2.30 करोड़ नागरिकों के साथ अमेरिका की एकजुटता आज पहले से कहीं अधिक अहम है, क्योंकि दुनिया आटोक्रेसी (निरंकुशता) और डेमोक्रेसी के बीच एक विकल्प का सामना कर रही है। वहीं, चीनी ने इस दौरे की निंदा करते हुए कहा है कि US आग से खेलना बंद करे।

अमेरिकी स्पीकर के ताइवान दौरे से जुड़े लेटेस्ट अपडेट्स यहां पढ़ें…

ताइवान की राजधानी ताईपेई के ताइपे सोंगशान हवाई अड्डे पर अमेरिकी और ताइवानी डेलीगेशन के साथ स्पीकर नैंसी पेलोसी।

ताइवान की राजधानी ताईपेई के ताइपे सोंगशान हवाई अड्डे पर अमेरिकी और ताइवानी डेलीगेशन के साथ स्पीकर नैंसी पेलोसी।

यह दौरा ताइवान पर US की पॉलिसी के खिलाफ नहीं
पेलोसी ने कहा- हमारे कांग्रेस के प्रतिनिधिमंडल की ताइवान यात्रा इस देश के जीवंत लोकतंत्र का समर्थन करने के लिए अमेरिका के कमिटमेंट का सम्मान करती है। यह यात्रा सिंगापुर, मलेशिया, दक्षिण कोरिया और जापान सहित इंडो पैसिफिक रीजन की व्यापक यात्रा का हिस्सा है। इसका फोकस म्युचुअल सिक्योरिटी, इकोनॉमिक पार्टनरशिप और डेमोक्रेटिक गवर्नेंस है।

उन्होंने आगे कहा कि ताइवानी लीडरशिप के साथ हमारी चर्चा का फोकस एक स्वतंत्र और खुले इंडो पैसिफिक रीजन को आगे बढ़ाने पर केंद्रित होगा। इसमें मुक्त व्यापार और साझा हितों को बढ़ाना शामिल है। यह दौरा ताइवान में जा चुके कई कांग्रेस डेलीगेशन में से एक है और किसी भी तरह से ताइवान पर US की पॉलिसी के खिलाफ नहीं है। हम ताइवान रिलेशंस एक्ट, 1979 के हिसाब से ही चल रहे हैं। अमेरिका मौजूदा स्थिति को बदलने के एकतरफा प्रयासों का विरोध करना जारी रखेगा।

चीन ने कहा- जो भी आग से खेलता है अपने आप को ही जलाता है
चीन के विदेश मंत्रालय ने पलोसी की यात्रा के तुरंत बाद जारी किए बयान में कहा है कि चीन इस यात्रा का विरोध करता है और कड़ी निंदा करता है। चीन ने कहा है- ये आग से खेलने का बेहद खतरनाक काम है। जो भी आग से खेलता है अपने आप को ही जलाता है।

चीन के विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनयिंग ने कहा- हम यात्रा के जवाब में अपनी क्षेत्रीय अखंडता और राष्ट्रीय संप्रभुता की रक्षा के लिए हर जरूरी कदम उठाएंगे। इसके सभी परिणामों के लिए अमेरिका और ताइवान के आजादी समर्थक और अलगाववादी बल जिम्मेदार होंगे। ताइवान के सवाल पर चीन के लोगों और सरकार का पक्ष हमेशा से स्पष्ट रहा है।

ताइवान कार्ड खेलना बंद करे US
चीन अमेरिका से आग्रह करता है कि वो ताइवान कार्ड खेलना बंद करे और चीन को रोकने के लिए ताइवान का इस्तेमाल बंद करे। अमेरिका ताइवान की आजादी मांगने वाली अलगाववादी ताकतों के साथ मिलकर साजिश रचना और उनकी मदद करना बंद करे।

अमेरिका वन चाइना पॉलिसी और US-चीन के बीच हुए तीन साझा संवादों को लागू करने के लिए कड़ाई से पालन करे और इस गलत और खतरनाक रास्ते पर और आगे ना बढ़े।

चीन ने ताइवान के चारो ओर सैन्य अभ्यास का ऐलान किया

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) की ओर से जारी नक्शा। PLA गुरुवार से रविवार तक ताइवान के आसपास के 6 क्षेत्रों में मिलिट्री एक्सरसाइज करने की बात कही है।

चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) की ओर से जारी नक्शा। PLA गुरुवार से रविवार तक ताइवान के आसपास के 6 क्षेत्रों में मिलिट्री एक्सरसाइज करने की बात कही है।

चीन ने ताइवान के चारों तरफ गुरुवार और रविवार को बड़ा सैन्य अभ्यास करने का ऐलान किया है। चीन ने यहां से गुजरने वाले जहाजों से इस इलाके से बचकर जाने के लिए कहा है। चीन ने जिन इलाकों में सैन्य अभ्यास की घोषणा की है उनका कुछ हिस्सा ताइवान के जल क्षेत्र में आता है।

ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने चीन के SU-35 लड़ाकू विमानों के ताइवान की खाड़ी में उड़ान भरने की रिपोर्टों को एक बयान जारी कर खारिज किया है। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि वह चीन की तरफ से हर खतरे से निबटने के लिए तैयार है।

ये तस्वीरें ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने जारी की हैं।

ये तस्वीरें ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने जारी की हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement