17 दिन 5 मैच तय करेंगे दलीप ट्रॉफी का चैंपियन: अजिंक्य रहाणे को मिली वेस्ट जोन की कप्तानी, देखिए दलीप ट्रॉफी का शेड्यूल

0
13


एक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

तीन साल के बाद आखिरकार दलीप ट्रॉफी का इंतजार खत्म हो गया है। इस साल दलीप ट्रॉफी की शुरुआत 8 सितंबर से हो रही है। इसका फाइनल 21 तारीख को खेला जाएगा। आखिरी बार ये टूर्नामेंट साल 2019 में खेला गया था। कोरोना के कारण 2020 और 2021 में इसका आयोजन नहीं हुआ था। 8 अगस्त को BCCI ने डोमेस्टिक सीजन का शेड्यूल जारी किया था। 2022 का डोमेस्टिक सीजन दलीप ट्रॉफी के साथ शुरू होगा।

इसके साथ ही जानते हैं दलीप ट्रॉफी की हर एक बात…

कुछ अलग है इस बार दलीप ट्रॉफी

इस बार दलीप ट्रॉफी में कुछ बदलाव किए गए हैं। साल 2016 से 2020 के बीच दलीप ट्रॉफी में तीन टीमें हिस्सा लेती थी। इंडिया रेड, इंडिया ब्लू और इंडिया ग्रीन ये टीमें हुआ करती थी। इस बार BCCI ने दलीप ट्रॉफी का पुराना तरीका अपनाया है। पिछले सीजन की तरह इस बार तीन टीमों की बजाए कुल 6 टीमें दलीप ट्रॉफी में खेलेंगी।इन टीमों को जोन के आधार पर बांटा गया है। इस साल नया जोन नॉर्थ ईस्ट जोन भी दलीप ट्रॉफी में हिस्सा लेगा। इसके अलावा नॉर्थ जोन, साउथ जोन, ईस्ट जोन, वेस्ट जोन,और सेंट्रल जोन की टीमें एक दूसरे के खिलाफ खेलेंगी।

कौन करेगा कप्तानी

किसी भी जोन का कप्तान उस जोन की एक सिलेक्शन कमेटी तय करती है। ऐसे ही इन 6 टीमों के कप्तान चुनने की प्रक्रिया में इन जोन की कमेटी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। चलिए जानते हैं कौन इन टीमों की कप्तानी करेगा…

जानिए दलीप ट्रॉफी का पूरा शेड्यूल

दलीप ट्रॉफी 8 सितंबर को शुरू होगी और इसका आखिरी मैच 25 सितंबर तक खेला जाएगा। 17 दिन चलने वाले इस टूर्नामेंट में कुल 5 मैच खेले जाएंगे। इस टूर्नामेंट के सारे मैच नॉकआउट मैच होंगे और हारने वाली टीम बाहर होती जाएगी। फाइनल के अलावा सारे ही मैच चार दिन के होंगे। जबकि फाइनल टेस्ट 5 दिन का होगा।

दलीप ट्रॉफी 2022 में टीम स्क्वाड

वेस्ट जोन:अजिंक्य रहाणे (कप्तान), पृथ्वी शॉ, यशस्वी जायसवाल, श्रेयस अय्यर, हार्दिक तामोर (विकेटकीपर), शम्स मुलानी, तनुश कोटियन, शार्दुल ठाकुर, राहुल त्रिपाठी, सत्यजीत बच्चाव, हेत पटेल, चिंतन गाजा, जयदेव उनादकट, चिराग जानी, अतित सेठ.

सेंट्रल जोन: करण शर्मा (कप्तान), शुभम शर्मा (उप कप्तान), हिमांशु मंत्री (विकेटकीपर), यश दुबे, प्रियम गर्ग, रिंकू सिंह, अशोक मनेरिया, अक्षय वाडकर (विकेटकीपर), गौरव यादव, वेंकटेश अय्यर, दीपक धोपोला, अनिकेत चौधरी, कुमार कार्तिकेय, आदित्य सर्वते और अंकित राजपूत.

नॉर्थ जोन: यश धुल, ध्रुव शौरे, मनन वोहरा, मंदीप सिंह (कप्तान), हिमांशु राणा, आकाश वशिष्ठ, अनमोल मल्होत्रा, मयंक डागर, पुलकित नारंग, नवदीप सैनी, सिद्धार्थ कौल, जगजीत सिंह, निशांत सिंधु, कमरान इकबाल, विकास मिश्रा

साउथ जोन: हनुमा विहारी (कप्तान), मयंक अग्रवाल, रोहन कुन्नुम्मल, मनीष पांडे, देवदत्त पड्डिकल, बी इंद्रजीत, एकनाथ केरकर, रिकी भुई, साई किशोर, के गॉथम, बेसिल थंपी, रवि तेजा, वीसी स्टीफन, तन्य त्यागराजन, लक्ष्य गर्ग

ईस्ट जोन– मनोज तिवारी (कप्तान), विराट सिंह, नजीम सिद्दिकी, सुदीप कुमार, शांतनु मिश्रा, अनुस्तूप मजूमदार, रियान पराग, कुमार कुशाग्र, अभिषेक पोरल, शाबाज अहमद, शाहबाज नदीम, इशान पोरल, आकाश दीप, मुख्तार हुसैन, मणीशंकर, मूरा सिंह

नॉर्थ ईस्ट जोन: आशीष थापा (कप्तान), तेचि नेरी, जोनाथन, किशन, अंकुर मलिक, बिशवर्जीत, लालबीक्वेला, आर के रेक्स, केन्स, तेचि डोरिया, दिप्पू संगमा, होकाइतो, किशन शिंगा, बॉबी, मो. अल बशिद

खबरें और भी हैं…



Source link