हैप्पी बर्थडे शक्ति कपूर: पिता बनाना चाहते थे टेलर पर किस्मत ने बनाया एक्टर, दोस्तों ने FTII में फार्म भरा और बन गए एक्टर

0
11


26 मिनट पहले

700 फिल्में, एक अवॉर्ड और 47 सालों का फिल्मी करियर। बॉलीवुड के क्राइम मास्टर गोगो यानी शक्ति कपूर अपना 70वां बर्थडे सेलिब्रेट कर रहे हैं। खूंखार विलेन हो या कॉमेडियन का रोल शक्ति कपूर ने अपनी एक्टिंग से लोगों को खूब हंसाया और डराया भी है। 1980 से 1990 के दशक के बीच ही शक्ति कपूर ने लगभग 100 फिल्मों में काम कर लिया था। एक साधारण फैमिली में जन्में शक्ति के पिता दिल्ली में टेलर थे और वो अपने बेटे को भी इसी काम में उतारना चाहते थे, लेकिन शक्ति ने ट्रैवल एजेंसी खोलने का सपना देखा था। हालांकि उनकी किस्मत उन्हें बॉलीवुड तक खींच लाई और जब शक्ति ने बॉलीवुड में एंट्री ली तो एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम किया। उनका कंट्रोवर्सी से भी गहरा नाता रहा है। फिर चाहे एक्ट्रेस शिवांगी से भागकर शादी करना हो या कास्टिंग काउच में नाम आना हो। तो चलिए आज उनके बर्थडे के मौके पर उनकी जिंदगी के खास पहलुओं पर एक नजर डालते हैं।

पिता बनाना चाहते थे टेलर

3 सितंबर 1952 को दिल्ली के एक पंजाबी परिवार में सुनील सिकंदर कपूर यानी शक्ति कपूर का जन्म हुआ। उनके पिता की दिल्ली के कनॉट प्लेस में टेलर की दुकान थी। वो चाहते थे कि बेटा पढ़-लिखकर उनका बिजनेस ही ज्वाइन करे। उनकी पढ़ाई दिल्ली के किरोड़ीमल कॉलेज से पूरी हुई। बाद में उन्होंने अपना खुद का बिजनेस करने के बारे में सोचा। इसके लिए उन्होंने ट्रैवल एजेंसी खोलना चाहा और इसके लिए उन्होंने 6 महीने की ट्रेनिंग भी ली।

एफटीआईआीई में लिया एडमिशन

शक्ति को अबतक एक्टिंग में बिल्कुल इंटरेस्ट नहीं था लेकिन उनके दोस्त थिएटर ग्रुप से थे। ऐसे में उनके दोस्तों ने अपने साथ शक्ति का भी FTII में फार्म भर दिया। दिलचस्प बात ये है कि जिन दोस्तो ने अपने साथ शक्ति कपूर का फार्म भरा था उनका एडमिशन तो हुआ नहीं और उनमें से सिर्फ शक्ति कपूर को सिलेक्ट कर लिया गया। अब शक्ति कपूर का मन भी एक्टिंग की ओर जाने लगा और उन्होंने एफटीआईआई से डिप्लोमा कोर्स कर लिया।

सुनील सिकंदर कपूर से ऐसे बने शक्ति कपूर

शक्ति कपूर का नाम बदलने का श्रेय सुनील दत्त को जाता है। दरअसल, हुआ यूं कि एक बार सुनील दत्त अपने बेटे को लॉन्च करने के लिए फिल्म रॉकी बना रहे थे। ऐसे में जब उनकी नजर सुनील सिकंदर कपूर पर पड़ी तो विलेन के रोल में वो उन्हें जंच गए, पर सुनील दत्त को उनका नाम नहीं भाया और उन्होंने कहा इस तरह के नाम बॉलीवुड में नहीं चलते। बस उसी समय उन्होंने सुनील सिकंदर कपूर का नाम शक्ति कपूर रख दिया।

700 फिल्मों में किया काम

शक्ति कपूर के करियर की शुरुआत 1975 में आई फिल्म रंजीत खलाल से हुई थी। इसके बाद उन्होंने राजा बाबू, अंदाज अपना-अपना, कुली नं. वन, हीरो, चुप-चुपके, हिम्मतवाला जैसी एक से बढ़कर एक फिल्मों में काम किया। शक्ति कपूर ने कॉमेडी और विलेन दोनों तरह के रोल करके इंडस्ट्री में अपनी अच्छी खासी पहचान बना ली। उनके क्राइम मास्टर गोगो, नंदू और जिम्मी जैसे किरदार आज भी लोगों को खूब पसंद आते हैं।

एक्ट्रेस शिवांगी के साथ घर से भागकर की शादी

शक्ति कपूर की मुलाकात शिवांगी से 1980 में रिलीज हुई फिल्म किस्मत से हुई थी। इस फिल्म में शिवांगी और शक्ति कपूर दोनों ने काम किया था। शिवांगी बॉलीवुड की जानीमानी एक्ट्रेस पद्मनी कोल्हापुरी की बहन हैं। दोनों की मु्लाकात देखते ही देखते प्यार में बदल गई, लेकिन शिवांगी के घर वालों को ये रिश्ता कतई पसंद नहीं था। दोनों ने घर वालों को मनाने की खूब कोशिश की, फिर जब घर वाले नहीं माने तो दोनों ने साल 1982 में घर से भागकर शादी कर ली। शादी के वक्त शक्ति कपूर की उम्र 30 साल थी तो शिवांगी 18 साल की। शादी के बाद शिवांगी से उनके परिवार ने सारे रिश्ते तोड़ दिए। शक्ति ने भी उन्हें कभी अकेलापन महसूस नहीं होने दिया। शादी के एक साल बाद यानी 19 साल की उम्र में ही शिवांगी मां बन गईं और उन्होंने बेटे सिद्धार्थ कपूर को जन्म दिया। साथ ही उनकी बेटी श्रद्धा कपूर बॉलीवुड में अपनी अच्छी जगह बना चुकी हैं।

विवादों से रहा गहरा नाता

शक्ति कपूर का विवादों से भी गहरा नाता रहा है। साल 2005 में एक टीवी चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में शक्ति कपूर एक लड़की से वीडियो में फेवर मांगते नजर आए थे। टीवी चैनल ने बॉलीवुड में कॉस्टिंग काउस का सच बताने के लिए स्टिंग ऑपरेशन किया था जिसमें उन्होंने एक न्यूज रिपोर्टर को एक्ट्रेस बनाकर शक्ति कपूर के पास काम मांगने के लिए भेजा था। जिसमें कैमरे के सामने शक्ति कपूर रिपोर्टर से फेवर मांगते दिखे। बाद में इस खबर ने मीडिया की खूब सुर्खियां बटोरीं और प्रोड्यूसर गिल्ड ने शक्ति कपूर को फिल्म और टेलीविजन से बैन कर दिया। हालांकि इसके एक सप्ताह बाद उनपर से ये बैन हटा लिया गया था। उनके बेटे सिद्धांत भी रेव पार्टी में ड्रग्स लेने के आरोप में पकड़ा चुके हैं। यही आरोप उनकी बेटी पर भी लगे हैं। आखिरी बार शक्ति कपूर 2019 में रिलीज हुई मलयालम फिल्म लूसिफर में नजर आए थे।



Source link