स्ट्रीट डॉग्स के हमलों पर SC में सुनवाई: घायल लड़की के वकील बोले- केरल देवताओं का देश था, अब स्ट्रीट डॉग्स का

0
9


9 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

सुप्रीम कोर्ट केरल में स्ट्रीट डॉग्स से जुड़े एक मामले की सुनवाई 9 सितंबर को सुनवाई करने तैयार हो गया है। सुप्रीम कोर्ट में वकील वीके बीजू ने कहा कि राज्य में स्ट्रीट डॉग्स के हमले में घायल एक 12 साल की लड़की रेबीज वैक्सीन लेने के बावजूद मर गई थी। वकील बीजू ने कहा कि केरल भगवानों के देश से स्ट्रीट डॉग्स का देश बन गया है।

5 साल में डॉग बाइट के 10 लाख केस
काउंसिल बीजू ने चीफ जस्टिस यूयू ललित को बताया कि 2016 में, सुप्रीम कोर्ट ने डॉग बाइट से जुड़ी शिकायतों से निपटने और पीड़ितों को मुआवजे का निर्धारण करने के लिए केरल हाईकोर्ट के पूर्व जज जस्टिस एस सिरीजगन के नेतृत्व में एक आयोग का गठन किया था। वकील ने कहा कि जगन कमेटी से मौजूदा स्थिति की जानकारी मंगाई जाए। पिछले 5 साल में डॉग बाइट के 10 लाख केस सामने आए हैं।

2016 में आई थी सिरीजगन आयोग की रिपोर्ट

2016 में, जस्टिस सिरी जगन आयोग ने सुप्रीम कोर्ट में एक रिपोर्ट दी थी जिसमें कहा गया था कि स्ट्रीट डॉग्स की बेतहाशा बढ़ती आबादी सार्वजनिक सुरक्षा के लिए गंभीर खतरा बन गई है। अप्रैल 2016 में बने फैक्ट फाइंडिंग पैनल ने कुत्तों के काटने की गंभीरता, मृत्यु के कारणों और सभी अस्पतालों में एंटी-रेबीज टीकों की मुफ्त उपलब्धता का आकलन किया था।

खबरें और भी हैं…



Source link