शमी को टीम में मौका ना देने से हारा भारत: कोच बोले- IPL में जिसने अपनी टीम को चैंपियन बनाया, आप उसे बाहर कैसे कर सकते हैं

0
18


स्पोर्ट्स डेस्क30 मिनट पहलेलेखक: राजकिशोर

एशिया कप 2022 में टीम इंडिया फाइनल तक भी नहीं पहुंच पाई। भारत को पहले पाकिस्तान ने उसके बाद श्रीलंका ने मात दी। पूरे टूर्नामेंट में रोहित शर्मा की कप्तानी वाली टीम की सबसे कमजोर कड़ी उनकी गेंदबाजी रही। टीम के पास केवल 3 गेंदबाज थे। वहीं, जसप्रीत बुमराह के चोटिल होने के बावजूद मोहम्मद शमी को टीम में शामिल नहीं किया गया। इस फैसले की हर तरफ आलोचना हो रही है। मोहम्मद शमी के कोच बदरुद्दीन सिद्दीकी का भी मानना है कि एशिया कप जैसे महत्वपूर्ण टूर्नामेंट के लिए उनके शिष्य को नजर अंदाज करना भारतीय टीम को भारी पड़ा है।

उन्होंने दैनिक भास्कर से बातचीत में टीम के चयन को लेकर सवाल उठाए। उन्होंने कहा, शमी ने IPL में शानदार प्रदर्शन कर अपनी टीम गुजरात को चैंपियन बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। ऐसे में जब बुमराह जैसे गेंदबाज चोटिल होने की वजह से टीम में नहीं थे, तो शमी जैसे अनुभवी गेंदबाज का नजर अंदाज करना उनके समझ से परे है। प्रस्तुत है उनसे बातचीत के प्रमुख अंश…

सवाल- क्या आपको नहीं लगता है कि एशिया कप में मोहम्मद शमी की कमी खल रही है?
जवाब- बिल्कुल एशिया कप में उनकी (मोहम्मद शमी) की कमी खल रही है। जब बुमराह टीम में नहीं थे, तो ऐसे उन्हें जरूर लेकर जाना चाहिए था। मैं मानता हूं कि टेस्ट मैच के लिए टीम मैनेजमेंट ने उन्हें तैयार रखा है, ताकि वह फिट रहें। पर परिस्थिति ऐसी थी कि आपके अनुभवी गेंदबाज बुमराह चोट की वजह से टीम से बाहर थे। ऐसे में आपको तब टीम में एक अनुभवी गेंदबाज को एशिया कप में मौका देना चाहिए था। अभी टीम के साथ जो भी बॉलर गए हैं। उनमें अनुभव की कमी नजर आ रही है। हम पाकिस्तान और श्रीलंका से जो मैच हारे हैं, उसकी मुख्य वजह हमारी गेंदबाजी रही है।

सवाल- क्या आपको लगता है कि अगर शमी जैसे अनुभवी गेंदबाज होते तो टीम की स्थिति कुछ और होती?
जवाब- मैं यह नहीं कह सकता, लेकिन एक अनुभवी गेंदबाज टीम में होना ही चाहिए था। हम मोहम्मद शमी से उम्मीद कर सकते हैं। पूरे IPLमें उन्होंने अच्छी गेंदबाजी की है। नई बॉल से लगातार टीम को विकेट लेकर देते रहे हैं। ऐसे में आप उन्हें कैसे नजर अंदाज कर सकते हैं।

शमी के कोच बदरुद्दीन सिद्दीकी (बाएं से) उसके बाद मोहम्मद शमी और IPL में तेज गेंदबाज मोहसिन खान।

शमी के कोच बदरुद्दीन सिद्दीकी (बाएं से) उसके बाद मोहम्मद शमी और IPL में तेज गेंदबाज मोहसिन खान।

सवाल- आपकी नजर में शमी को टीम में नहीं शामिल की जाने की क्या वजह है?
देखिए वजह तो चयनकर्ता ही बता सकते हैं। मैं नहीं कह सकता कि टीम मैनेजमेंट क्या सोच रही है, लेकिन मैं मानता हूं कि नए लड़कों को चांस देना अच्छी बात है। इसकी तारीफ भी की जानी चाहिए। पर एशिया कप एक बड़ा टूर्नामेंट है। ऐसे में आपको उसको भी ध्यान में रखते हुए टीम का चयन करना चाहिए था। भुवनेश्वर कुमार भी पहले बहुत अच्छा नहीं खेल रहे थे। वो भी कुछ समय से ही बेहतर प्रदर्शन कर रह हैं। ऐसे में उनके साथ एक और अनुभवी बॉलर टीम के साथ होना चाहिए था।

शमी की न होने से पूरा लोड हार्दिक पंड्या पर पड़ गया। उसका नुकसान कहीं न कहीं उनके प्रदर्शन पर भी पड़ा। दूसरी ओर टीम मे शामिल अन्य बॉलर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर रहे हैं। जिसकी वजह से हमें परेशानी का सामना करना पड़ा। आज स्थिति है कि हमें फाइनल में पहुंचने के लिए दूसरी टीमों की जीत-हार पर निर्भर रहना पड़ रहा है। जबकि देखा जाए तो एशिया में भारत से ज्यादा स्ट्रॉन्ग टीम अभी कोई भी नहीं है और उसके आगे कहीं भी कोई टीम नहीं टिकटी है। उसके बावजूद भी हम जरा सी गलती की वजह से दोनों मैच हार गए। क्योंकि 20-20 मैच है और एक गेंदबाज 4 ओवर ही कर सकते हैं। ऐसे में 5 अच्छे गेंदबाज तो आपकी टीम में होना ही चाहिए।

मोहम्मद शमी टी-20 वर्ल्ड कप 2021 टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का हिस्सा थे।

मोहम्मद शमी टी-20 वर्ल्ड कप 2021 टी-20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का हिस्सा थे।

सवाल- अभी मोहम्मद शमी कहां प्रैक्टिस कर रहे हैं और मैच को लेकर आप दोनों के बीच क्या बातचीत होती है?
जवाब-
मोहम्मद शमी अभी मुरादाबाद में ही प्रैक्टिस कर रहे हैं। मैच को लेकर हम बात नहीं करते हैं। क्योंकि अब इस पर बात करने का कोई फायदा नहीं है। अब हम लोग कुछ नहीं कर सकते हैं। ऐसे में वह केवल अपने प्रैक्टिस पर ही ध्यान दे रहे हैं।

उनकी जरूरत ऑस्ट्रेलिया में होनी वाली है। वहां पर टी-20 वर्ल्ड कप है। वहां पर बाउंसी विकेट है। ऐसे में आपको तो स्पीड वाले बॉलर तो चाहिए ही। ऐसे में बुमराह के साथ शमी का होना वहां जरूरी है।

सवाल- आपको लगता है कि एशिया कप में चयनकर्ताओं ने शमी को नजर अंदाज कर जो गलती की है, वह टी-20 वर्ल्ड कप में नहीं करेंगे?
जवाब- मुझे लगता है कि एशिया कप में हार से और मैच में जो खराब प्रदर्शन हुई है। उससे चयनकर्ता शमी को टीम में लेने के लिए सोचेंगे। टीम इंडिया के पूर्व कोच रवि शास्त्री भी कह चुके हैं कि मैं हैरान हूं कि शमी को टीम में क्यों नहीं लिया गया। शास्त्री टीम इंडिया के कोच रह चुके हैं। शमी के गेंदबाजी को जानते हैं और टीम इंडिया को भी अच्छी तरह समझते हैं। ऐसे में अगर वह शमी के चयन न होने पर सवाल उठा रहे हैं तो सभी को सोचना चाहिए।



Source link