विराट बयान पर सुनील गावस्कर का पलटवार: बोले-पूर्व कप्तान बताएं कि किसके मैसेज का इंतजार था और वे क्या सुनना चाहते थे

0
25


दुबई30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एशिया कप में पाकिस्तान के खिलाफ हार के बाद टीम इंडिया के पूर्व कप्तान विराट कोहली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बड़ा बयान दिया था। विराट ने कहा था कि जब उन्होंने टेस्ट क्रिकेट की कप्तानी छोड़ी तब महेंद्र सिंह धोनी के अलावा किसी पूर्व क्रिकेटर ने उन्हें मैसेज नहीं किया। विराट ने यह भी कहा था कि उनका नंबर बहुत लोगों के पास है लेकिन किसी ने उनसे बात करना उचित नहीं समझा।

इस मामले पर अब पूर्व दिग्गज सुनील गावस्कर का जवाब सामने आया है। गावस्कर ने इसके अलावा अर्शदीप सिंह के कैच ड्रॉप मामले पर भी अपनी राय रखी है। विराट को दूसरे के मैसेज की जरूरत ही क्यों पड़ी गावस्कर ने कहा, ‘विराट कोहली को उन खिलाड़ियों के नाम बता देने चाहिए जिनसे उन्हें टेस्ट कैप्टेन्सी छोड़ने के बाद एक कॉल या मैसेज की उम्मीद थी। साथ ही ये भी बता देना चाहिए कि वे पूर्व खिलाड़ियों के किस तरह के संदेश का इंतजार कर रहे थे।’

विराट कैप्टेन्सी छोड़ने के बाद ऐसा क्यों कर रहे हैं
गावस्कर का कहना था कि विराट के बयान से पता लगाना मुश्किल है कि उनका इशारा किसकी तरफ है। गावस्कर ने सवाल उठाया कि क्या कैप्टेन्सी छोड़ने के बाद विराट किसी दिलासे या प्रोत्साहन की उम्मीद कर रहे हैं? लेकिन क्यों? ये तो अब अपने खेल पर ध्यान देने का समय है। गावस्कर ने 1985 के एक वाकये का जिक्र भी किया जब उन्होंने कैप्टेन्सी छोड़ी थी। उन्होंने कहा उस रात हमने सेलिब्रेट किया, एक-दूसरे को गले लगाया। लेकिन इससे ज्यादा आप किस चीज की उम्मीद कर सकते हैं? मुझे कोई भी स्पेशल कॉल या मैसेज नहीं भेजे गए थे।

अर्शदीप ट्रोल की चिंता क्यों करें?
रविवार को हुए भारत-पाकिस्तान के मैच में अर्शदीप के कैच छोड़ने पर भड़की कंट्रोवर्सी पर गावस्कर का कहना है कि किसी पूर्व खिलाड़ी ने अर्शदीप की आलोचना नहीं की। कौन हैं वो लोग जो उसे मैच हारने के लिए जिम्मेदार ठहरा रहे हैं? उनकी बात को इतना महत्व देने की जरूरत क्या है? अर्शदीप की आलोचना करने वाले लोगों में से शायद ही कोई वो कैच कर सकता था।

खबरें और भी हैं…



Source link