राकेश ने बताई बॉलीवुड फिल्मों के फ्लॉप होने की वजह: बोले- लोग अब वही फिल्में बना रहे हैं, जो उन्हें और उनके दोस्तों को पसंद आती हैं

0
23


18 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

राकेश रोशन ने हाल ही में बॉलीवुड हंगामा को दिए एक इंटरव्यू के दौरान बॉलीवुड में फिल्मों के फ्लॉप होने के बारे में बात की। बातचीत के दौरान उन्होंने बताया कि आखिर किस वजह से हिंदी फिल्में लगातार फ्लॉप हो रही हैं। राकेश ने कहा कि इन दिनों जिन टॉपिक्स पर फिल्में बन रही हैं, उससे ऑडियंस खुद को कनेक्ट नहीं कर पा रही है।

राकेश ने बताई फिल्मों के फ्लॉप होने की वजह

राकेश रोशन ने कहा, ‘आज कल हिंदी फिल्में इसलिए फ्लॉप हो रही हैं, क्योंकि लोग अब सिर्फ वही फिल्में बना रहे हैं, जो उन्हें और उनके दोस्तों को पसंद आती हैं। वो फिल्में बनाने के लिए सिर्फ वही सब्जेक्ट चुन रहे हैं, जो ऑडियंस के एक छोटे से ग्रुप को ही अपील कर पाता है। ऑडियंस का एक बड़ा हिस्सा उनसे रिलेट नहीं कर पाता।’

फिल्मों के सॉन्ग्स एक्टर्स को सुपरस्टार बनाते हैं

राकेश ने आगे कहा, ‘एक और बड़ी समस्या ये है कि आज कल कि फिल्मों से सॉन्ग्स गायब हो रहे हैं। पहले फिल्मों में कम से कम 6 सॉन्ग्स तो होते ही थे। वो सॉन्ग्स एक्टर्स को सुपरस्टार बनाते थे। फिलहाल इस समय सुपरस्टार बनना बहुत डिफिकल्ट हो गया है। आज कल अगर फिल्मों में सॉन्ग होते भी हैं, तो वो कभी-कभी सिर्फ बैकग्राउंड में ही चलते हैं, या फिर उनका सिर्फ मुखड़ा ही प्ले किया जाता है।’

साउथ की फिल्मों की सफलता से सीखने की जरूरत है

राकेश कहते हैं, ‘पुष्पा’ और ‘RRR’ जैसी फिल्में अपने गानों की वजह से भी खूब हिट रहीं। उनके हर गाने ने ऑडियंस में फिल्म को देखने का क्रेज पैदा कर दिया था। इसलिए बॉलीवुड को उन फिल्मों की सफलता से सीखने की जरूरत है।’

बॉलीवुड फिल्ममेकर्स को पता नहीं क्या हो गया है

राकेश आगे कहते हैं, ‘साउथ में लोग अभी भी उन कहानियों को देखना चाहते हैं, जिनसे उन्हें जुड़ाव महसूस होता है। वहां के फिल्ममेकर्स उन स्टोरीज को बहुत बढ़िया तरीके से प्रजेंट करते हैं, लेकिन हमारे बॉलीवुड फिल्ममेकर्स को पता नहीं क्या हो गया है। वो हमारे कल्चर से जुड़ी चीजों से दूर जाते जा रहे हैं। वो ‘मॉडर्न सिनेमा’ बनाने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन ऐसी फिल्में सिर्फ 1% लोगों को ही पसंद आती हैं।

अगर फिल्ममेकर को पता है कि उसकी कहानी में कितना दम है और वो कितना बिजनेस करेगी तो उन्हें उसी हिसाब से एक्टर्स की कास्टिंग करनी चाहिए।’ उन्होंने कहा कि अगर किसी फिल्म का ट्रेलर या टीजर काम नहीं करता है, तो ऐसे में फिल्मों का प्रमोशन बहुत जरूरी है।

खबरें और भी हैं…



Source link