मृणाल सेन: फिल्ममेकर जिसने फिल्मों में समाज की असली तस्वीर दिखाई, 18 नेशनल अवॉर्ड जीते, न्यू वेव सिनेमा का दौर लाए

0
11



3 मिनट पहलेलेखक: ऋचा श्रीवास्तव

क्या आप जानते हैं की सोशल इश्यूज पर बन रहीं अनेक, गंगुबाई काठियावाड़ी, बधाई दो, जय भीम, द ग्रेट इंडियन किचन, थप्पड़, आर्टिकल 15, पिंक जैसी ये हार्ड और रीयलिस्टिक फिल्में बॉलीवुड का कोई नया एक्सपेरिमेंट नहीं है। बल्कि, ये एक फिल्म मूवमेंट का रिजल्ट हैं जिसका नाम है न्यू वेव फिल्म मूवमेंट।

भारत में इसकी शुरुआत मृणाल सेन ने 1970 में की थी। आज इनकी 99वीं बर्थ एनिवर्सरी है। मृणाल सेन को भारत में न्यू वेव सिनेमा का जनक माना जाता है। इनकी फिल्में आर्ट फिल्में थीं,. जिनका एक सेपरेट फैन बेस हुआ करता था, जो आज भी है। एक इंटरव्यू में मृणाल ने कहा था कि चार्ली चैपलिन की फिल्मों ने मुझे बड़ा किया है।

फिल्म ‘एक दिन अचानक’ बनाने वाले मृणाल एक दिन अचानक राज्य सभा के मेम्बर चुन लिए गए। 1997 से 2003 तक उन्होंने अपना कार्यकाल पूरा किया। 30 दिसम्बर 2018 को सेन ने अंतिम सांस ली। इनकी दी गई न्यू वेव सिनेमा की लिगेसी अब भी जारी है।

आज मृणाल सेन की बर्थ एनिवर्सरी पर उनसे जुड़ी दिलचस्प बातें जानने के लिए देखें ये खास विडियो।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here