भोजन के बाद इन चीजों को खाने से नहीं होती पेट फूलने की समस्या

0
18


DIY Tips For Stomach Bloating: कुछ भी खाते ही पेट फूल जाना इस बात की निशानी है कि आपका पाचन तंत्र कमजोर (Digestive System Weakness) है और आपको इसके लिए काम करने की जरूरत है. पाचन तंत्र को मजबूत करने के तरीकों के साथ ही यहां आपको यह भी बताया जा रहा है कि खाना खाने के बाद आप ऐसा क्या खाएं ताकि आपको पेट फूलने की समस्या का सामना ना करना पड़े. क्योंकि जिन लोगों का पाचन कमजोर होता है, उन्हें अक्सर यह समस्या होती है कि कुछ भी खाते ही उनका पेट फूल जाता है और भारीपन लगने लगता है…

खाना खाते ही क्यों फूल जाता है पेट?

  • भोजन के साथ अधिक मात्रा में पानी पीने से पेट फूलने की समस्या हो सकती है.
  • रात के समय बादी यानी वायु बढ़ाने वाली चीजें खाने से अगले दिन तक पेट फूलने और हेवीनेस की समस्या हो सकती है.
  • भोजन का पाचन जब सही तरह से नहीं होता है तो यह भोजन पाचन तंत्र के लिए एक बोझ की तरह हो जाता है. क्योंकि डायजेस्टिव सिस्टम स्लो है और पचान के लिए खाना
  • अधिक मात्रा में है तो पाचन तंत्र पर दबाव और अधिक बढ़ जाता है. 
  • पाचन स्लो होने के कारण फूड डायजेशन के दौरान बनने वाली गैस और उत्सर्जित होने वाले अपशिष्ट पेट में ही भरे रह जाते हैं और इन्हें पास होने में समय लगता है, यह भी पेट में भारीपन का एक कारण होता है.

पेट फूलने की समस्या से बचने के लिए क्या खाएं?
अब सवाल यह उठता है कि ऐसा क्या किया जाए कि पेट फूलने की समस्या से तुरंत छुटकारा मिल सके. तो आप यहां बताई गई चीजों का सेवन भोजन के तुरंत बाद करें…

  • एक चम्मच सौंफ और आधा चम्मच मिश्री
  • हरड़ की गोलियां खाएं. ये पाचन की प्रक्रिया को सहज बनाती है.
  • आधा चम्मच अजवाइन गुनगुने पानी के साथ खाएं.
  • 5 से 6 पुदीना पत्तियां काले नमक के साथ चबाकर खाएं और बाद में गुनगुना पानी पी लें.
  • भोजन के बाद हरी इलायची को चबाकर खाएं. एक से आराम ना मिले तो इलायची एक साथ खाएं. लेकिन इससे ज्यादा इलायची एक साथ ना खाएं, नहीं तो अन्य समस्याएं हो सकती हैं.

डायजेस्टिव सिस्टम को हेल्दी कैसे करें?

पाचन तंत्र कमजोर होने के कई कारण हो सकते हैं लेकिन आज हमें उन उपायों पर बात करनी है, जिनसे पाचन तंत्र को स्ट्रॉन्ग और फास्ट बनाया जा सकता है…

  • सोने और जागने का समय निर्धारित करें. इसका पाचन पर बहुत गहरा असर पड़ता है क्योंकि ऐसा करने से शरीर की बायॉलजिकल क्लॉक सेट हो पाती है. यानी शरीर को पता चल पाता है कि उसे कब क्या करना है.
  • रोज 8 घंटे की नींद जरूर लें
  • रात के भोजन को हमेशा हल्का रखें और इसमें खिचड़ी का सेवन जरूर करें या हर दूसरे-तीसरे दिन खिचड़ी जरूर खाएं.
  • भोजन के साथ पानी नहीं पीना है, बहुत जरूरी हो तो थोड़ा-सा गुनगुना पानी पी लें.
  • भोजन करने के कम से कम दो घंटे बाद ही दूध का सेवन करें.
  • रोज एक्सर्साइज करें, वॉक करें या योग करें. 
  • मानसिक तनाव लेने से भी पेट खराब होता है और पाचन कमजोर. इसलिए तनाव से बचने के लिए ध्यान यानी मेडिटेशन जरूर करें.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. 

यह भी पढ़ें: जल्दी नींद लाने में मदद करती हैं ये ट्रिक्स, रात को बेड पर जाने से पहले अपनाएं

यह भी पढ़ें: हम अपने लाडलों को नहीं दे पा रहे मुफ्त की ये चीज, नरम और टेढ़ी बन रहीं बच्चों की हड्डियां

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link