ब्रिटेन को आज मिलेगा नया PM: लिज ट्रस-ऋषि सुनक दौड़ में, कंजर्वेटिव पार्टी के 1.60 लाख मेंबर्स तय करेंगे नाम

0
15


लंदन25 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

ब्रिटेन को आज नया प्रधानमंत्री मिल जाएगा। कंजरवेटिव पार्टी की दक्षिणपंथी प्रत्याशी लिज ट्रस और भारतीय मूल के ऋषि सुनक के बीच मुकाबला है। पार्टी के करीब 1.60 लाख सदस्य वोटिंग कर चुके हैं और आज नतीजों का ऐलान होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, लिज ट्रस भले ही सांसदों के वोट हासिल करने में पीछे रही हों, लेकिन फाइनल मुकाबला पार्टी मेंबर्स के वोटों से तय होना है और लिज यहां ऋषि से काफी आगे मानी जा रही हैं।

7 जुलाई को बोरिस जॉनसन ने पार्टी नेता के पद से इस्तीफा दिया था। एक सर्वे के मुताबिक, पार्टी के हर 10 में से 6 मेंबर्स लिज के साथ हैं। तमाम मीडिया रिपोर्ट्स बताती हैं कि ट्रस ही बोरिस जॉनसन की जगह लेंगी।

आज क्या होगा

  • ब्रिटेन समयानुसार दोपहर 12:30 बजे सर ग्राहम ब्रैडी विजेता की घोषणा करेंगे। ब्रैडी बैकबेंच टोरी सांसदों की 1922 समिति के अध्यक्ष और चुनाव के रिटर्निंग ऑफिसर हैं।
  • सुनक और ट्रस को पब्लिक अनाउंसमेंट के 10 मिनट पहले यह पता चल जाएगा कि उन दोनों में से कौन अगला प्रधानमंत्री होगा।
  • प्रोग्राम के मुताबिक, नया प्रधानमंत्री रिजल्ट घोषित होने के फौरन बाद डाउनिंग स्ट्रीट के पास एक छोटा भाषण देगा। ये सिर्फ एक परंपरा है।

मंगलवार यानी 6 सितंबर को क्या होगा?

  • 6 सितंबर को बोरिस जॉनसन PM हाउस 10 डाउनिंग स्ट्रीट से प्रधानमंत्री के तौर पर अपना आखिरी भाषण देंगे। इसके बाद इस्तीफा महारानी को सौंपने के लिए स्कॉटलैंड के एबरडीनशायर रवाना होंगे। फिलहाल, क्वीन एलिजाबेथ यहीं हैं।
  • 6 सितंबर को ही एलिजाबेथ नए प्रधानमंत्री को औपचारिक रूप से नियुक्त करेंगी। यानी नया पीएम शपथ लेगा। शपथ ग्रहण समारोह स्कॉटलैंड के बाल्मोरल कैसल में होगा।
  • आधिकारिक नियुक्ति होते ही नए प्रधानमंत्री वापस लंदन आएंगे। यहां 10 डाउनिंग स्ट्रीट से नए प्रधानमंत्री का पहला भाषण होगा।
  • लंदन के समय के मुताबिक शाम करीब 4 बजे भाषण देने के बाद प्रधानमंत्री अपनी नई कैबिनेट की नियुक्ति करेंगे।
  • नई कैबिनेट की पहली बैठक बुधवार (7 सितंबर) को होगी। इसके बाद प्रधानमंत्री पहली बार सदन (हाउस ऑफ कॉमन्स) पहुंचेंगे।

फाइनल राउंड आसान नहीं

‘द गार्डियन’ के मुताबिक, कोरोना के दौर में सुनक ने ब्रिटिश इकोनॉमी को तबाह होने से बचाया। बहुत कम बोलने वाले और शांत मिजाज के सुनक फेवरेट जरूर हैं, लेकिन ट्रस पीछे नहीं हैं। जॉनसन भी लिज के फेवर में ही हैं। दरअसल, ब्रिटेन में सुनक की छवि जॉनसन की गद्दी हथियाने वाले की बनी है। सुनक ने ही जॉनसन के खिलाफ इस्तीफा देकर बगावत शुरू की थी। कुछ दिन पहले बोरिस जॉनसन ने सुनक के खिलाफ ‘बैक एनीवन बट ऋषि’ नाम का सीक्रेट कैम्पेन भी शुरू किया था।

आइए अब जानते हैं कि प्रधानमंत्री पद के दोनों दावेदार कौन हैं?

ऋषि सुनक

  • ऋषि सुनक के पैरेंट्स पंजाब के रहने वाले थे, जो विदेश में जाकर बस गए।
  • सुनक का जन्म ब्रिटेन के हैंपशायर में हुआ था। ऋषि ने अमेरिका की स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एमबीए किया है।
  • उन्होंने ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी से राजनीति, दर्शन और अर्थशास्त्र की पढ़ाई की।
  • राजनीति में आने से पहले ऋषि ने इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमैन सैश और हेज फंड में काम किया। इसके बाद उन्होंने इन्वेस्टमेंट फर्म की भी स्थापना की।
  • उनकी मां एक फार्मासिस्ट और राष्ट्रीय स्वास्थ्य सेवा (एनएचएस) में कार्यरत हैं। सुनक के पिता ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय और स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय से स्नातक हैं।
  • ऋषि भारतीय सॉफ़्टवेयर कंपनी इंफोसिस के सह-संस्थापक नारायण मूर्ति के दामाद हैं।
ऋषि की पत्नी अक्षता मूर्ति हैं। दोनों की 2 बेटियां हैं, जिनके नाम कृष्णा और अनुष्का हैं। उनकी शादी साल 2009 में हुई थी।

ऋषि की पत्नी अक्षता मूर्ति हैं। दोनों की 2 बेटियां हैं, जिनके नाम कृष्णा और अनुष्का हैं। उनकी शादी साल 2009 में हुई थी।

लिज ट्रस

  • 46 साल की लिज ट्रस का पूरा नाम एलिजाबेथ मैरी ट्रस है।
  • 1975 में ऑक्सफोर्ड में उनका जन्म हुआ। पिता मैथमैटिक्स के प्रोफेसर और मां नर्स थीं।
  • 1994 में उन्होंने ब्रिटेन की राजशाही का खुले तौर पर विरोध किया। 2010 में ट्रस पहली बार सांसद चुनी गईं।
  • वे साउथ वेस्ट नॉर्थफोक की सांसद हैं। लिज फॉरेन कॉमन वेल्थ एंड डेवलपमेंट अफेयर्स सेक्रेटरी हैं।
  • ट्रस दो साल इंटरनेशनल ट्रेड सेक्रेटरी भी रहीं। पिछले साल उन्हें यूरोपियन यूनियन से बातचीत का अहम जिम्मा सौंपा गया था।
लिज (बाएं) जनता के बीच काफी लोकप्रिय हैं। उनकी एक फोटो वायरल हुई थी जिसमें वो टैंक में बैठीं थी। 1986 में ब्रिटेन की पहली महिला प्रधानमंत्री मारग्रेट थैचर की भी ऐसी ही फोटो सामने आई थी।

लिज (बाएं) जनता के बीच काफी लोकप्रिय हैं। उनकी एक फोटो वायरल हुई थी जिसमें वो टैंक में बैठीं थी। 1986 में ब्रिटेन की पहली महिला प्रधानमंत्री मारग्रेट थैचर की भी ऐसी ही फोटो सामने आई थी।

2019 में भी इस तरह का चुनाव हुआ है
2019 में लीडरशिप के लिए इस तरह का चुनाव हुआ था। तब 10 उम्मीदवार मैदान में थे। पहले चरण की वोटिंग के बाद बोरिस जॉनसन और पूर्व स्वास्थ्य सचिव जेरेमी हंट दो उम्मीदवार बचे। दूसरे चरण में जब पार्टी के सदस्यों ने वोट डाले तब जॉनसन को दो तिहाई वोट मिले थे।

खबरें और भी हैं…



Source link