बॉलीवुड फिल्मों के फ्लॉप होने पर गोल्डी बहल बोले: अच्छी फिल्म को हिट होने से कोई नहीं रोक सकता है

0
10


9 घंटे पहले

फिल्म प्रोड्यूसर गोल्डी बहल ने हाल ही में स्पॉटबॉय को दिए एक इंटरव्यू के दौरान बॉलीवुड में चल रहे बायकॉट कल्चर के बारे में खुलकर बात की। उन्होंने फिल्मों पर पड़ रहे इसके अफेक्ट पर अपना ओपिनियन शेयर किया। इसके साथ ही उन्होंने ‘लाइगर’ के फ्लॉप होने का रीजन भी बताया। गोल्डी ने कहा कि एक अच्छी फिल्म को हिट होने से कोई नहीं रोक सकता है।

गोल्डी ने की बायकॉट कल्चर के बारे में बात

गोल्डी से जब पूछा गया कि क्या बायकॉट कल्चर की वजह से ‘लाइगर’ फ्लॉप हुई है, तो इसके जवाब में उन्होंने कहा, ‘नहीं, मुझे नहीं लगता कि बायकॉट के ट्रेंड की वजह से बॉक्स ऑफिस पर फिल्में फ्लॉप हो रही हैं। मुझे ये लगता है कि अगर आप सिनेमाघरों में जाने वाले लोगों का और सोशल मीडिया पर बायकॉट करने वालों का आंकड़ा देखेंगे, तो आपको इसका जवाब खुद ही मिल जाएगा।’

गोल्डी बहल एक इंडियन फिल्म प्रोड्यूसर और डायरेक्टर हैं।

फिल्म अच्छी है तो कोई भी ट्रेंड इसे सफल होने से नहीं रोक सकता

बॉलीवुड इंडस्ट्री में बायकॉट कल्चर के बारे में बात करते हुए गोल्डी ने इसे दुर्भाग्यपूर्ण बताया। उन्होंने आगे कहा, ‘मुझे लगता है कि अच्छी फिल्मों को कोई भी ट्रेंड सफल होने से नहीं रोक सकता है। मुझे इस पर भरोसा है। मैं इस इंडस्ट्री से काफी लंबे समय से जुड़ा हुआ हूं और अगर फिल्म ऑडियंस से कनेक्ट कर पा रही है तो कोई भी उसे हिट होने से नहीं रोक सकता है। लेकिन फिलहाल ये बहुत दुख की बात है कि लोग नेगेटिविटी फैला रहे हैं। मुझे नहीं पता कि इस नफरत से भरे कैम्पेन की वजह से फिल्मों की परफॉर्मेंस अफेक्ट हो रही हैं या फिर ऐसे ही फिल्में नहीं चल रही हैं। क्योंकि अच्छी फिल्में तो इन सबके बावजूद भी चल जाती हैं।’

मेकर्स ने ‘जन-गण-मन’ को डाला होल्ड पर

‘लाइगर’ 25 अगस्त, 2022 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी। 100 करोड़ रुपए से ज्यादा के बजट में बनी इस फिल्म ने अब तक लगभग 40 करोड़ ही कमाए हैं। फिल्म में विजय ने एक बॉक्सर का रोल प्ले किया है। इसकी कहानी फाइटर के संघर्ष के इर्द-गिर्द घूमती है। इस फिल्म को पुरी जगन्नाथ ने डायरेक्ट किया है। इसमें विजय के साथ-साथ अनन्या पांडे भी लीड रोल में हैं। बॉक्स ऑफिस पर बुरी तरह पिटने के बाद अब विजय की अगली फिल्म ‘जन-गण-मन’ को टाल दिया गया है। इसे भी पुरी जगन्नाथ ही डायरेक्ट करने वाले थे।



Source link