पूर्व कांग्रेसी मंत्री धर्मसोत की रिहाई अटकी: केस में नई धाराएं जोड़ी गई, जमानत सिर्फ करप्शन केस में मिली; फिर कोर्ट जाना होगा

0
23


  • Hindi News
  • Local
  • Punjab
  • Punjab Forest Corruption Case; Former Congress Minister Sadhu Singh Dharamsot Nabha Jail

चंडीगढ़14 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

साधु सिंह धर्मसोत करप्शन केस में 85 दिन से नाभा जेल में बंद हैं।

पूर्व कांग्रेसी मंत्री साधु सिंह धर्मसोत की रिहाई लटक गई है। धर्मसोत को 2 दिन पहले पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट से रेगुलर बेल मिली। इसके बाद भी उन्हें नाभा जेल से नहीं छोड़ा गया। जेल प्रबंधन ने तर्क दिया कि सरकार से उन्हें जानकारी मिली कि धर्मसोत पर दर्ज केस में नई धाराएं जोड़ी गई हैं। उन्हें जमानत सिर्फ करप्शन केस में मिली है। इसलिए उन्हें रिहा नहीं किया जा सकता। स्पष्ट है कि नई धाराओं में जमानत के लिए धर्मसोत को फिर कोर्ट जाना होगा।

यहां फंसा पेंच
धर्मसोत को विजिलेंस ब्यूरो ने 3 महीने पहले करप्शन केस में गिरफ्तार किया था। जिसके बाद इस केस में IPC की धारा 420, 467, 468 और 471 भी जोड़ दी गई है। नाभा जेल के अफसरों के मुताबिक उनके पास जो जमानत ऑर्डर पहुंचा है, उसमें इन धाराओं में जमानत नहीं है। जेल प्रशासन का कहना है कि उन्हें भी अब ही इसके बारे में पता चला है। उन्हें फैक्स के जरिए यह जानकारी भेजी गई। अब धर्मसोत को इन नई धाराओं में भी जमानत लेनी चाहिए।

85 दिन से जेल में धर्मसोत
कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में जंगलात मंत्री रहे धर्मसोत पिछले 85 दिन से नाभा जेल में बंद हैं। उन्हें करप्शन केस में पकड़ा गया था। धर्मसोत पर आरोप है कि उन्होंने परमिट लेने वाले लोगों से एक पेड़ कटाई के बदले 500 रुपए कमीशन लिया। विजिलेंस ने शुरूआती जांच में उनके सवा करोड़ कमीशन लेने के आरोप साबित होने की बात कही। हालांकि हाईकोर्ट में जमानत पर सुनवाई के वक्त कोई परमिट होल्डर कमीशन की गवाही देने नहीं आया। जिसके बाद उन्हें जमानत मिल गई।

खबरें और भी हैं…



Source link