दुनिया की सबसे डरावनी फिल्में: द एक्सोरसिस्ट दुनिया की सबसे डरावनी और कमाने वाली हॉरर फिल्म, द कंजरींग को देखकर कांप जाएंगे आप

0
7


एक घंटा पहले

आपको हॉरर फिल्में पसंद हैं? अगर हां तो क्या आप जानते हैं कि दुनिया की सबसे डरावनी फिल्म कौनसी है। आज हम बात करेंगे दुनिया की सबसे डरावनी फिल्मों की। जिसे शायद कोई भी व्यक्ति अकेला देख नहीं पाएगा या देख भी लिया तो रात में अकेले सोने में वो दस बार सोचेगा।

द एक्सोरसिस्ट

1973 में रिलीज हुई हॉलीवुड फिल्म द एक्सोरसिस्ट को दुनिया की सबसे डरावनी फिल्म माना जाता है। इस फिल्म में एक हॉलीवुड स्टार की बच्ची पर प्रेत आत्मा का साया दिखाया गया है। जिसे उसकी मां एक्सोरसिस्म के सहारे दूर करने की कोशिश करती है। फिल्म के सीन इतने डरावने हैं कि इस फिल्म को आप पहली बार देख रहे हैं और आप आसानी से डरने वाले व्यक्ति नहीं हैं फिर भी डर जाएंगे। इस फिल्म को विलीयम फ्रेडकिन ने डायरेक्ट किया था। जो कि इसी नाम की नॉवेल पर आधारित है। ये नॉवेल बेस्ट सेलर थी। जबकि ये फिल्म दुनिया की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली हॉरर फिल्म है। इस फिल्म का बजट 96 करोड़ 77 लाख था और कमाई की बात करें तो इस फिल्म की कमाई 349 करोड़ थी। द एक्सोरसिस्ट 9 कैटेगरी में ऑस्कर में नॉमिनेट हुई थी और दो कैटेगरी में अवॉर्ड अपने नाम किए थे।

हैरिडेटरी

2018 में रिलीज हुई ये फिल्म दुनिया की दूसरी सबसे डरावनी फिल्म है। ये एक फैमिली ड्रामा पर बेस्ड है। इस फिल्म को एरी एस्टर ने लिखा और डायरेक्ट किया है। इस फिल्म में सुपरनेचुरल पॉवर को बताया गया है। फिल्म में टोनी कोलेट ने बेहतरीन एक्टिंग की है। 77 करोड़ के बजट में बनी इस फिल्म ने 618 करोड़ रुपए की कमाई की थी। इस फिल्म को दशक की सबसे डरावनी फिल्म भी माना गया था।

द कंजूरिंग

2013 में रिलीज हुई ये फिल्म दुनिया की सबसे डरावनी फिल्मों की इस सीरीज में तीसरे नंबर पर है। फिल्म को सच्ची घटना पर आधारित बताया गया है। इस फिल्म को जेम्स वॉन ने डॉयरेक्ट किया है। पैरानार्मल इन्वेस्टिगेटर्स और डरावनी घटनाओं से इस फिल्म की कहानी ली गई है। जो बेहद डरावनी है। जो बेहद डरावनी है। इस फिल्म में कई ऐसे सीन हैं जो आपके रोंगटे खड़े कर देंगे। 154 करोड़ के बजट में बनी इस फिल्म के पहले पार्ट ने 2,470 करोड़ की कमाई की थी।

द शाइनिंग

1980 में रिलीज हुई ये फिल्म एक ऐसे व्यक्ति पर आधारित है जो अकेले रहते हुए अपना मानसिक संतुलन खो देता है और अपनी फैमिली के साथ फार्म हाउस पर ऐसी हरकतें करता है जिससे उसकी फैमिली खतरे में पढ़ जाती है। इस फिल्म के सीन विचलित कर देते हैं। ये फिल्म इसी नाम पर लिखी गई नॉवेल पर बेस्ड है। इस फिल्म को क्रिटीक्स का भी बहुत अच्छा रिस्पॉन्स मिला था। 147 करोड़ में बनी इस फिल्म ने 364 करो़ड़ की कमाई की थी।

टैक्सास चैनसॉ मैस्कर

1974 में रिलीज हुई इस फिल्म को टॉब हूपर ने डायरेक्ट किया है। ये फिल्म एक फैमिली ड्रामा है। फिल्म में एक डरावना शख्स है जो लोगों की हत्या करता है। फिल्म में कई सीन ऐसे हैं जिन्हें देखतक आप कांप जाएंगे। ये फिल्म सुपरहिट रही थी और इस फिल्म के थिएटर में 16.5 मिलियन टिकट बेचे गए थे जो कि एक रिकॉर्ड है। ये फिल्म महज 62 लाख के बजट में बनी थी जिसने 232 करोड़ की कमाई की थी।

द रिंग

2002 में रिलीज हुई ये फिल्म डायरेक्टर गोरे वरबिनस्की ने डायरेक्ट की है। जो सुपरनेचुरल पॉवर पर आधारित है। ये फिल्म जापानी हॉरर फिल्म हेडियो नॉकाटा की रिमेक है। जो कि कॉजी सुजुकी की नॉवेल पर आधारित थी। इस फिल्म में एक वीडियो दिखाया गया है जो कि एक जर्नलिस्ट देख लेता है जिसके 7 दिनों के अंदर उसकी मौत हो जाती है। बस यहीं से शुरू होती है फिल्म की कहानी और मौतों का सिलसिला जो फिल्म के साथ ही आगे बढ़ता जाता है। ये फिल्म इतनी डरावनी है कि इसे देखने के बाद कई दिनों तक इसकी कहानी याद रहती है। 371 करोड़ के बजट में बनी इस फिल्म की कमाई 1,929 करोड़ थी।



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here