जानिए युवाओं में क्यों बढ़ रहे हैं Sudden Heart Attack, इसे कैसे रोका जा सकता है

0
19
Advertisement


What is Sudden Heart Attack? हार्ट अटैक के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं और खासतौर पर युवाओं को अपनी चपेट में ले रहे हैं. हैरान करने वाली बात ये है कि इस जानलेवा बीमारी की चपेट में आने वाले युवा हेल्दी और फिट हैं. आखिर किन कारणों से Sudden Heart Attack आता है और कैसे इसे रोका जा सकता है ये जानने के लिये इस रिपोर्ट को जरूर पढ़ें.

हार्ट अटैक के कारण 

1- पहली वजह है गलत तरीके की लाइफस्टाइल में जीना, मानसिक और शारिरिक स्ट्रैस होना और साथ ही कम सोना ये आदते तुरंत चेंज होने की जरूरत है. दरअसल स्ट्रैस कई बार हमारे शरीर में इंफ्लेमेशन पैदा करता है और बॉडी में कई दूसरी नेगेटिव फैक्टर्स को एक्टीवेट कर देता है जिसमें प्लेक बनना, प्लेक का ब्रेक डाउन होना और क्लॉटिंग होना शामिल है.

2- हार्ट अटैक की दूसरी वजह है प्लेक होना जिसे सामान्य भाषा में लोग ब्लॉकेज के नाम से जानते हैं.  coronary आर्ट्रीज में जो ब्लड वेसल होती हैं वो हार्ट को ब्लड सप्लाई करती हैं जिससे हार्ट प्रॉपर पंपिंग करता है. लेकिन ब्लॉकेज इस ब्लड सप्लाई को रोक देता है जिससे हार्ट सही से अपना काम नहीं कर पाता.अगर ये ब्लॉकेज ज्यादा हैं तो लोगों को चेस्ट में पेन, ब्रेथलेसनेस जैसे लक्षण फील होते हैं, जो अचानक हार्ट अटैक आते हैं वो छोटे ब्लॉकेज की वजह से आते हैं और मेडिकल टर्म में उनको साइलेंट अटैक बोलते हैं. हालांकि ये छोटे ब्लॉकेज ब्लड फ्लो को नहीं रोकते या उसमें कोई रुकावट नहीं डालते इसलिये कोई लक्षण नहीं आते. लेकिन जब ये ब्लॉकेज ब्रेक होती है तो प्रॉबलम है क्योंकि इनका ब्रेक होना coronary artery में ब्लॉकेज और ब्लड क्लॉटिंग कर सकता है. 

3- हार्ट अटैक का तीसरा फैक्टर है ज्यादा क्लॉटिंग. अगर कोई ब्लॉकेज ज्यादा बड़ी है और ब्रेक डाउन होकर बड़े ब्लड क्लॉट बनाती है तो उससे हार्ट अटैक आ सकता हैं क्योंकि ये क्लॉट ब्लड फ्लो को रोक सकती है जिससे हार्ट अटैक होता है. अगर क्लॉट छोटे हैं तो ब्ल़ड फ्लो नहीं रुकता. अमेरिकन कॉलेज ऑफ कार्डियोलॉजी(JACC) के मुताबिक लाखों लोगों के ये होता है और उनको कोई लक्षण पता नहीं चलते और वो हार्ट से बचकर निकल जाते हैं.  

कौन टेस्ट से रोक सकते हैं हार्ट अटैक?
बेसिकली हार्ट अटैक के बचने के लिये तीन बातों का सही तौर पर टेस्ट कराना चाहिये जिसमें पहला ये पता लगे कि ये स्मॉल प्लेक तो नहीं हैं , दूसरा अगर प्लेक हैं तो वो किस तरह ब्रेक डाउन होते हैं और तीसरा प्लेक ब्रेक डाउन होकर कितने बड़े ब्लड क्लॉट बनाते हैं. 

हार्ट अटैक से कैसे करें बचाव?
1- समय पर सोने और जागने की आदत बनायें. रात को देर तक जागना, कम नींद लेना या कई रातों तक लगातार जगने जैसी आदतें एकदम रोक दें. 
2- स्ट्रैस चाहे मेंटल हो या फिजिकली उससे दूरी बनाये रखें. जिन बातों से तनाव बढ़ता है उनसे बचें. तनाव हमारी बॉडी में नेगेटिव फैक्टर्स को जेनेरेट कर सकता है
3- कई तरह के योगा और मेडिटेशन होते हैं तो हमारे दिल और दिमाग को कूल एंड काम करते हैं. अगर ज्यादा तनाव रहता है तो योग और मेडिटेशन करना शुरु करें
4- हेल्दी फूड खाने की आदत बनायें. शराब और सिगरेट से दूर रहें और  होम मेड खाना खायें. खाने में कोल्ड कंप्रेस्ड ऑयल का इस्तेमाल करें Hऔर बैलेंस्ड डाइट लें. 

ये भी पढ़ें: Infected Syringe: वैक्सिनेशन के दौरान रहें सतर्क, सिरिंज को लेकर बरतें ये सावधानी

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Advertisement