चंडीगढ़ में ‘टोमेटो फ्लू’ का अलर्ट: प्रशासन ने कहा – इसकी कोई दवाई नहीं; बच्चों को खतरा ज्यादा, एहतियात बरतें

0
30


चंडीगढ़30 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

चंडीगढ़ प्रशासन ने टोमेटो फ्लू से बचने के उपाय भी बताए हैं। – फाइल फोटो

चंडीगढ़ में प्रशासन ने डेंगू और स्वाइन फ्लू के बाद टोमेटो फ्लू का अलर्ट जारी किया है। प्रशासन ने कहा कि इस बीमारी की अभी कोई दवाई नहीं है। इसका खतरा बच्चों को ज्यादा है। इसलिए एहतियात बरतें। प्रशासन ने इसके कारण और एहतियात के तरीके भी बताएं हैं। हालांकि चंडीगढ़ में अभी टोमेटो फ्लू का कोई केस नहीं मिला है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से एडवाइजरी जारी होने के बाद इसके बारे में अलर्ट जारी किया गया है।

यह हैं लक्षण
प्रशासन ने बताया कि टोमेटो फ्लू भी दूसरी वायरल बीमारियों की तरह है। इसमें बुखार, स्किन पर रैशेज और जॉइंट पेन होता है। इसके अलावा थकान, उल्टी, डायरिया, डिहाईड्रेशन, जॉइंट्स में सूजन, शरीर में दर्द हो सकता है। अगर किसी बच्चे में ऐसे लक्षण हैं तो पहले उनके डेंगू, चिकनगुनिया, जीका वायरस जैसे टेस्ट किए जाते हैं। इनमें कुछ न मिला तो फिर टोमेटो फ्लू की जांच की जाती है।

एकांतवास में रहना जरूरी
प्रशासन ने कहा कि अगर ऐसे लक्षण आते हैं तो फिर 5 से 7 दिन एकांतवास में रहना पड़ेगा, ताकि यह बीमारी दूसरों में न फैले। इसमें आराम करना जरूरी है। वहीं लिक्विड का सेवन करना चाहिए। जलन से राहत के लिए स्किन को गर्म पानी से सेका जा सकता है। यह बीमारी खुद ठीक हो जाती है।

चंडीगढ़ प्रशासन की तरफ से जारी एडवाइजरी…

खबरें और भी हैं…



Source link