किडनी को कमजोर करती है हमारी ये आदत, ना करें ऐसी लापरवाही

0
12
Advertisement


Kidney Health: बारिश का मौसम चल रहा है. ऐसे में पीने के पानी का संक्रमित (water contamination) होना हमारे देश की आम समस्या है. लेकिन यदि आपने गलती से भी संक्रमित पानी का सेवन कर लिया या रखा हुआ बासी भोजन (Stale food) खाया तो इनका सबसे पहला असर किडनी (Kidney) और लिवर (Liver) पर पड़ेगा और संक्रमण (Infection)  का खतरा बढ़ जाएगा. यही वजह है कि बारिश के दिनों में जॉइंडिस (jaundice) यानी पीलिया रोग के केस सबसे अधिक देखने को मिलते हैं. पीलिया किडनी हेल्थ से जुड़ा एक रोग है. ऐसे में आपके लिए यह बहुत जरूरी हो जाता है कि आप अपनी किडनी को स्वस्थ रखें. और इसे इतना हेल्दी बनाएं कि जल्दी से कोई भी बैक्टीरिया, वायरस इस पर असर ना कर पाए. ताकि गलती से कभी कोई इंफेक्टेड फूड खा भी लिया तो किडनी इस समस्या से खुद निपट ले. और आपको अलग से दवाई लेने की जरूरत ना पड़े… 

किडनी को हेल्दी रखने के लिए क्या खाएं?

किडनी को स्वस्थ रखने और इसकी रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने के लिए ऐसे फूड्स का सेवन करना होगा जो नैचली इम्युनिटी बूस्ट करने का काम करते हैं. ऐसी ही कुछ आयुर्वेदिक हर्ब्स के बारे में यहां बताया जा रहा है, जिन्हें भारतीय रसोई में उपयोग किया जाता है. बस बारिश के दिनों में आपको इनका उपयोग नियमित रूप से करना है.

किडनी के लिए हल्दी: हल्दी पाउडर या कच्ची हल्दी से तैयार की गई चटनी इत्यादि को अपनी डेली डायट में शामिल करें. इसमें ऐंटिइंफ्लामेट्री एंजाइम्स और कर्क्यूमिन नाम यौगिक होता है, जो शरीर में जाकर सूजन और दर्द की समस्या पैदा करने वाले बैक्टीरिया, वायरस का खात्मा करते हैं.

हालांकि जब एक बार किसी को जॉइंडिस हो जाता है तो फिर उसके इलाज के दौरान हल्दी का सेवन नहीं करना होता है. इसके अपने मेडिकल कारण हैं. लेकिन स्वस्थ रहते यदि आप हर दिन भोजन में हल्दी का सेवन करें तो पीलिया का खतरा कम होता है. बारिश के दिनों में आप एक चौथाई चम्मच हल्दी को खाना खाने के बाद ताजे पानी से भी ले सकते हैं. ऐसा दिन में सिर्फ एक बार करें.

अदरक का सेवन बनाए किडनी को हेल्दी
किडन को हेल्दी रखने में अदरक भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है. आप हर दिन ब्लैक-टी में अदरक डालकर इसका सेवन कर सकते हैं. या फिर अदरक कैंडी चूस सकते हैं. चटनी, दाल, सब्जी इत्यादि में अदरक का उपयोग करें. यह ऐंटिबैक्टीरियल, ऐंटिइंफ्लामेट्री और ऐंटिफंगल गुणों से भरपूर होता है.

लहसुन रखे किडनी को हेल्दी 

लहसुन में एलिसिन नामक यौगिक होता है, जो शरीर में सूजन, दर्द, जलन या संक्रमण फैलाने वाले किसी भी माइक्रोब को बढ़ने नहीं देता है. इसलिए आप हर दिन दाल-सब्जी और चटनी में लहसुन का उपयोग करें. यदि किसी स्थिति में आप संक्रमित फूड खा लेते हैं या पानी पी लेते हैं तो लहसुन आपके शरीर से टॉक्सिन्स को फिल्टर करके आपको निरोग रखे का काम करेगा.

 

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें. 

यह भी पढ़ें: बेकार की अपेक्षाएं बढ़ाती हैं प्यार की दुनिया से जुड़ी ये बातें, बिना बात ही हर्ट हो जाता है दिल

यह भी पढ़ें: नेक्स्ट लेवल पर पहुंचेगी आपकी फिटनेस, सावन में जरूर खानी चाहिए ये दो सब्जियां

 

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

Advertisement