ओलिंपिक में देश के मेडल बढ़ा सकता है स्मार्ट बॉक्सर: IIT मद्रास ने मुक्केबाजों के लिए सॉफ्टवेयर बनाया; बॉक्सिंग टेक्निक का एनालिसिस करेगा

0
23


  • Hindi News
  • Sports
  • Olympic Games Paris 2024; IIT Madras Develops Smartboxer Software

नई दिल्ली7 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

पेरिस में 2024 में होने जा रहे ओलिंपिक गेम्स के लिए भारत ने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस की मदद से खास तैयारी की है। आईआईटी मद्रास ने मुक्केबाजों के लिए ‘स्मार्ट बॉक्सर’ नाम का सॉफ्टवेयर बनाया है। यह मुक्केबाज की तकनीक का विश्लेषण करेगा।

यह खिलाड़ी को बताएगा कि वे कौन-कौन से बदलाव हो सकते हैं, जिनसे वे मेडल के पक्के दावेदार बन सकते हैं।आईआईटी के सेंटर फॉर एक्सीलेंस फॉर स्पोर्ट्स साइंस एंड एनालिटिक्स के हेड प्रो. रंगनाथन श्रीनिवासन ने बताया कि ‘स्मार्ट बॉक्सर’ कर्नाटक के वेल्लारी स्थित आईआईएस में इंस्टाॅल होगा। देशभर के चुने हुए खिलाड़ी वहां जाकर अपना प्रदर्शन सुधार सकेंगे।

ओलिंपिक मेडल बढ़ाने सरकार ने एआई का सहारा लिया
सरकार ने ओलिंपिक मेडल बढ़ाने के लिए बॉक्सिंग, तीरंदाजी, निशानेबाजी, बैडमिंटन, वेटलिफ्टिंग, साइकिलिंग, एथलेटिक्स, हॉकी और कुश्ती में एआई का सहारा लेने की योजना पर काम शुरू कर दिया है। ‘स्मार्ट बॉक्सर’ इसका पायलट प्रोजेक्ट है।

विश्लेषण कैसे करेगा?
‘स्मार्ट बॉक्सर’ मुक्केबाजों को उनकी विशेषता के साथ यह भी बताएगा कि मूवमेंट पैटर्न, पंच और डिफेंस में से किस पहलू को विकसित करने की जरूरत है। यह 4 तरीकों से होगा…

  • पहला- पंच फोर्स के विश्लेषण के लिए सेंसर वाले ग्लव्स होंगे।
  • दूसरा- ग्राउंड रिएक्शन फोर्स रिकॉर्ड करने के लिए प्रेशर सेंसर के साथ वायरलेस फुट इनसोल होगा।
  • तीसरा- शरीर के निचले भाग का मूवमेंट रिकॉर्ड करने के लिए वायरलेस ईएमजी सेंसर होगा।
  • चौथा- खिलाड़ी के शरीर के ऊपरी हिस्से के मूवमेंट रिकॉर्ड करने के लिए इनर्शियल मूवमेंट यूनिट होगी।

खबरें और भी हैं…



Source link