आज लॉन बॉल्स में गोल्ड के लिए उतरेगी टीम इंडिया: इसे कंचे का अपडेट वर्जन भी कह सकते हैं, धोनी का यह पसंदीदा खेल; जानिए नियम

0
10
Advertisement


  • Hindi News
  • Sports
  • India Vs South Africa; Commonwealth Games Lawn Bowls Rules And Point System

बर्मिंघमएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को 16-13 से हराकर फाइनल में पहुंचा है भारत।

  • भारत-साउथ अफ्रीका फाइनल दोपहर 3:00 बजे से

कॉमनवेल्थ गेम्स में आज टीम इंडिया लॉन बॉल्स में गोल्ड जीतने के इरादे से उतरेगी। आज भले ही देश भर के खेल प्रेमी लॉन बॉल्स के बारे में बात कर रहे हों, लेकिन ज्यादातर हिंदुस्तानी इस गेम से परिचित नहीं है। सरल भाषा में समझाएं तो यह हमारे गांव-कस्बों में खेले जाने वाले कंचे का अपडेट वर्जन है। खास बात ये है कि यह पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी के पसंदीदा खेलों में शामिल है। आइए जानते हैं इस खेल के बारे में…

गेम में बड़ी बॉल को जैक यानी की टारगेट के पास पहुंचाना होता है। जिसकी बॉल सबसे नजदीक पहुंचती है, अंक उसे मिलता है।

टीम इंडिया मंगलवार को दोपहर 3:00 बजे साउथ अफ्रीका के खिलाफ गोल्ड मेडल मैच खेलेगी। एक दिन पहले वह न्यूजीलैंड को हराते हुए फाइनल में पहुंची थी। 92 साल के कॉमनवेल्थ गेम्स के इतिहास में पहली बार भारत फाइनल में पहुंचा है।

वीडियो से समझें कैसे खेलते हैं…

इसे घास (मैट) के मैदान पर खेला जाता है। इसमें खिलाड़ी को अलग-अलग रंगों की बॉल को 23 मीटर की दूरी से टारगेट (जैक) के पास पहुंचाना होता है। जिसकी बॉल सबसे टारगेट के सबसे नजदीक जाती है उसे अंक मिलता है। खिलाड़ी मैच बारी-बारी से बॉल लुढ़काते हैं।

जैक एक छोटी बॉल होती है। जिसका डायामीटर 63-67 MM होता है, जबकि बड़ी बॉल का डायामीटर 112-134 MM का होता है। यह बॉल ऐसे डिजाइन होती है कि कभी एक सीधी लाइन में नहीं लुढ़कती है।

सेमीफाइनल जीतने के बाद टीम इंडिया।

सेमीफाइनल जीतने के बाद टीम इंडिया।

कितनी कैटेगरी होती हैं…?
गेम में चार कैटेगरी होती है। सिंगल्स, पेयर, ट्रिपल्स और फोर। पुरुष-महिला दोनों का गेम अलग होता है और दोनों के लिए अलग मेडल होते हैं।

प्वाइंट सिस्टम क्या है…?
बॉल को जैक के पास पहुंचाने पर अंक मिलते हैं। सिंगल्स में पहले 21 प्वाइंट हासिल करने वाले खिलाड़ी को विनर घोषित किया जाता है। जबकि डबल्स, ट्रिपल्स और फोर्स में 18 प्वाइंट में जीत मिल जाती है।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement