अमेरिका में मंकीपॉक्स पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित: अब तक संक्रमण के 6 हजार से ज्यादा मामले मिले, अकेले न्यूयॉर्क में 1,666 केस

0
11
Advertisement


  • Hindi News
  • International
  • America Declares A Health Emergency; Monkeypox Spreads In America;US Health And Human Services Secretary Javier Becerra

न्यूयॉर्क2 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

अमेरिका ने गुरुवार को मंकीपॉक्स को पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित कर दी। अमेरिका के हेल्थ एंड ह्यूमन सर्विस सेक्रेटरी जेवियर बेसेरा ने कहा- फिलहाल यह इमरजेंसी 90 दिनों के लिए ही लगाई गई है।

उन्होंने कहा- हम हर अमेरिकी से मंकीपॉक्स को गंभीरता से लेने और इस वायरस से निपटने में हमारी मदद करने की जिम्मेदारी लेने का आग्रह करते हैं। जेवियर ने कहा कि अमेरिका इस वायरस के खिलाफ लड़ाई को अगले स्तर पर ले जाने के लिए तैयार हैं।

अमेरिका में मंकीपॉक्स के 6600 से ज्यादा केस सामने आ चुके हैं, जिनमें एक चौथाई मामले अकेले न्यूयॉर्क में दर्ज किए गए। यानी यहां 1,666 मामले दर्ज किए गए। 2 अगस्त को राष्ट्रपति बाइडेन ने दो सीनियर ऑफिसर को इस वायरस से निपटने का जिम्मेदारी सौंपी है।

अमेरिका में मंकीपॉक्स के 6 लाख डोज दिए गए
न्यूयॉर्क टाइम्स के मुताबिक अमेरिका में मंकीपॉक्स और स्मॉलपॉक्स के लिए बनी JYNNEOS वैक्सीन की जुलाई के मध्य तक 6 लाख डोज डिलीवर हो चुकी हैं, लेकिन करीब 1.6 मिलियन लोगों की आबादी के जोखिम को देखते हुए ये संख्या कम ही है। बाइडेन के चीफ हेल्थ एडवाइजर डॉ. एंथनी फौसी ने गुरुवार को कहा कि बवेरियन नॉर्डिक (BAVA.CO) वैक्सीन की अतिरिक्त 25 लाख खुराक के आदेश दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि जब कोविड-19 महामारी फैली थी, उस वक्त उसकी कोई वैक्सीन नहीं था, लेकिन मंकीपॉक्स के लिए पहले से ही वैक्सीन और इलाज उपलब्ध हैं। इसे पहली बार 1970 के दशक में अफ्रीका में बनाया गया था।

दुनियाभर में 26 हजार से ज्यादा मामले
दुनियाभर के 87 देशों में मंकीपॉक्स के 26 हजार से ज्यादा मामले आ चुके हैं। दो दिन पहले कैलिफोर्निया और इलिनोइस ने इस खतरनाक बीमारी को लेकर हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया गया था। वर्ल्ड हेल्थ नेटवर्क (WHN) ने इस बीमारी को महामारी यानी Pandemic घोषित कर दिया है। WHN एक ऐसा नेटवर्क है, जिससे कई देशों के सैंकड़ों वैज्ञानिक और हेल्थ एक्सपर्ट्स जुड़े हैं। यह ग्लोबल, नेशनल और लोकल लेवल पर महामारी को पहचानकर उसके सॉल्यूशन पर काम करता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) हाल में मंकीपॉक्स को इंटरनेशनल पब्लिक हेल्थ इमरजेंसी घोषित किया था। WHO के मुताबिक मंकीपॉक्स पशुओं से मनुष्यों में फैलने वाला संक्रमण है और इसके लक्षण चेचक जैसे होते हैं।

भारत में मंकीपॉक्स के अब तक 9 मामले
दिल्ली एम्स में शुक्रवार मंकीपॉक्स के दो नए मामले सामने आए। दोनों को राजधानी के LNJP हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया है। दोनों मरीजों की कोई ट्रैवल हिस्ट्री भी नहीं है। शुक्रवार को 2 नए केस मिलने के बाद देश में मंकीपॉक्स के कुल 11 पॉजिटिव केस हो गए हैं। इनमें 5 केरल से और बाकी दिल्ली से हैं।

माइक्रोबायोलॉजी विभाग में प्रोफेसर डॉ. ललित डार के मुताबिक देश भर में मंकीपॉक्स की टेस्टिंग के लिए 15 लैब ICMR से रजिस्टर्ड हैं। उन्होंने कहा कि मंकीपॉक्स के लिए भी RTPCR किया जाता है। हमारे पास जरूरत और मरीजों की संख्या के आधार पर एक दिन में 400 सैंपल लेने की क्षमता है। फिलहाल दिल्ली, बिहार, उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और हरियाणा से सैम्पल टेस्टिंग के लिए आ रहे हैं।

खबरें और भी हैं…



Source link

Advertisement