अपनी डेली डायट में शामिल करें कच्चा आम, अपनाएं ये 3 तरीके

0
11


Raw Mango Benefits: केरी या कच्चा आम गर्मी के मौसम में खाना बहुत लाभकारी होता है. इसके सभी गुणों का लाभ लिया जा सके इसके लिए इसे खाते समय कुछ सावधानियां बरतना भी जरूरी होता है. क्योंकि कच्चा आम अलग-अलग विधि से उपयोग करने पर इसकी तासीर ठंडी और गर्म होकर अलग तह की खूबियां सेहत को प्रदान करती है. जैसे, जब आप कच्चे आम का पना बनाते हैं तो यह शरीर को ठंडक देता है और लू से बचाता है. लेकिन जब आप इसी कच्चे आम को गुड़ के साथ पकाकर मीठी चटनी बनाते हैं तो यह शरीर में गर्माहट लाने का काम करता है. यहां जानें, गर्मी के मौसम में कच्चे आम को किन आसान और स्वादिष्ट तरीकों से आप अपनी डेली डायट में शामिल कर सकते हैं…

कच्चे आम के गुण
सबसे पहले कच्चे आम में पाए जाने वाले गुणों के बारे में जान लीजिए. क्योंकि आपको पता होना चाहिए कि खट्टे स्वाद से भरा ये कच्चा आम शरीर के लिए कितना लाभकारी होता है. कच्चे आम में कई पौष्टिक गुण पाए जाते हैं, जैसे…

  • फाइबर, जो पाचन को बेहतर बनाते हैं
  • प्रोटीन, मांसपेशियों को मजबूती देता है
  • कैल्शियम, हड्डियों को मजबूत बनाता है
  • मैग्निशियम, त्वचा को जवां बनाए रखने में महत्वपूर्ण रोल निभाता है
  • फॉस्फोरस, तंत्रिकातंत्र में सही क्रियान्वयन के लिए जरूरी
  • पोटैशियम, शरीर को मजबूती देने के लिए जरूरी
  • जिंक, मसल्स और बोन हेल्थ के लिए आवश्यक

इन बीमारियों से करना है बचाव

कच्चा आम अपनी डेली डायट में शामिल करके आप कई बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं. जैसे,

  • पाचन संबंधी समस्याएं
  •  पेट में गैस बनने की समस्या
  • आंखों पर सूजन या पफी आइज की दिक्कत
  • लूज मोशन
  • डायरिया
  • खट्टी डकारें आना 

आम का पना 
गर्मी के मौसम में शरीर को ठंडा रखने और लू से बचने के लिए आम का पना जरूर पीना चाहिए. आम का पना एक भारतीय पारंपरिक पेय है, जिसका उपयोग गर्मी में होने वाले रोगों से बचाव के लिए भी किया जाता है. आम का पना बनाने में कच्चे आम का उपयोग किया जाता है. पना का खट्टा-मीठा स्वाद मूड को रिफ्रेश करने का काम भी करता है.

आम की चटनी

कच्चे आम को सिलबट्टे या मिक्सी में पीसकर इसकी चटनी का सेवन करने से भी शरीर को कई लाभ मिलते हैं. आप एक दिन में कम से कम एक समय पर भोजन के साथ इस चटनी का सेवन जरूर करें.

सिरके का अचार
गांव में कच्चे आम को काटकर गन्ने के सिरके में पकाकर इसका अचार तैयार किया जाता है. यह अचार औषधि की तरह काम करता है और पेट की बीमारियों से बचाता है. लेकिन अधिक मात्रा में खाने पर लूज मोशन की वजह भी बन जाता है. यदि आपका पेट अक्सर गड़बड़ रहता है और कोल्ड जल्दी-जल्दी होता रहता है तो आप इस विधि से तैयार अचार का सेवन हर दिन एक समय के भोजन में जरूर करें.

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों को केवल सुझाव के रूप में लें, एबीपी न्यूज़ इनकी पुष्टि नहीं करता है. इस तरह के किसी भी उपचार/दवा/डाइट पर अमल करने से पहले डॉक्टर की सलाह जरूर लें.

यह भी पढ़ें: अनदेखा करने पर खतरनाक रूप ले सकती है कैविटी, जानें बचाव के उपाय
यह भी पढ़ें: दुनिया के 5 सबसे अजीब डिसऑडर्स, इन्हें नहीं समझ पाते ज्यादातर लोग

Check out below Health Tools-
Calculate Your Body Mass Index ( BMI )

Calculate The Age Through Age Calculator



Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here